Donald Trump congratulates Biden administration, speculation of forming new political party

डोनाल्ड ट्रंप ने बाइडन प्रशासन को दी बधाई, नई राजनीतिक पार्टी बनाने की अटकलें
 
Donald Trump congratulates Biden administration, speculation of forming new political party
Donald Trump congratulates Biden administration, speculation of forming new political party

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने विदाई भाषण में देश को सुरक्षित रखने और समृद्ध बनाने में नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन के सफल रहने की प्रार्थना की और उन्हें शुभकामनाएं दीं। हालांकि, अभी तक ट्रंप ने सीधे तौर पर बाइडन को बधाई नहीं दी है। जो बाइडन आज यानी बुधवार को अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेने वाले हैं। इस बीच यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि ट्रंप अब अपनी नई राजनीतिक पार्टी बनाने का ऐलान कर सकते हैं लेकिन इसको लेकर शंका इसलिए है क्योंकि अब उनकी ही पार्टी के नेता उनके समर्थन में नहीं हैं।

राष्ट्रपति ट्रंप और फर्स्ट लेडी मेलानिया बुधवार सुबह ही वाइट हाउस छोड़कर फ्लॉरिडा के अपने रिजॉर्ट के लिए निकले। इस दौरान वे वॉशिंगटन डीसी के बाहर एक सैन्य अड्डे पर फेयरवेल के लिए रुकेंगे। हालांकि, वह और उनकी पत्नी मेलानिया आज बाइडन के शपथग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे।

उन्होंने कहा,'इस हफ्ते हमने एक नए प्रशासन का आरंभ किया है। अमेरिका को सुरक्षित रखने और समृद्ध बनाने के लिए उनकी (बाइडन प्रशासन की) सफलता की कामना करता हूं। हम उन्हें शुभकामनाएं देते हैं और चाहते हैं कि वे सौभाग्यशाली रहें।'

ट्रंप ने कहा कि अमेरिकी लोगों को अपने साझा मूल्यों के लिए एकजुट होना चाहिए और पक्षपातपूर्ण नफरत की भावना से ऊपर उठना चाहिए। ट्रंप का यह विदाई भाषण व्हाइट हाउस ने मंगलवार को जारी किया।

अपने संदेश में ट्रंप ने कहा कि राष्ट्रपति पद पर सेवाएं देना एक ऐसा सम्मान है जिसकी व्याख्या नहीं की जा सकती। ट्रंप ने कहा, 'इस अभूतपूर्व विशेषाधिकार के लिए आपका शुक्रिया। यह वास्तव में यही है-एक विशेषाधिकार और एक बड़ा सम्मान।'ट्रंप ने 20 मिनट से कुछ कम वक्त के वीडियो में अमेरिकी कैपिटल (संसद भवन) पर अपने समर्थकों के छह जनवरी के हमले पर भी बात की।

उन्होंने कहा, 'हमारे कैपिटल पर हमले से सभी अमेरिकी आतंकित हो गए थे। यह उन सभी चीजों पर हमला है जिन पर एक अमेरिकी होने के नाते हम गौरव महसूस करते हैं। इसे कभी भी बर्दाशत नहीं किया जा सकता अब पहले से कहीं ज्यादा हमें अपने साझा मूल्यों के इर्द-गिर्द एकजुट होना चाहिए और पक्षपातपूर्ण नफरत की भावना से ऊपर उठना चाहिए।'

इस दौरान उन्होंने 20 जनवरी, 2017 से 20 जनवरी 2021 तक की अमेरिकी सरकार की अहम उपलब्धियों का जिक्र किया और कहा कि उनके प्रशासन ने किसी की सोच से भी कहीं ज्यादा हासिल किया।

पार्टी बनाएंगे ट्रप?

वॉल स्ट्रीट जर्नल ने हाल ही में यह जानकारी दी थी कि ट्रंप भले ही वॉशिंगटन छोड़ रहे हैं लेकिन वह राजनीति में बने रहेंगे। इतना ही नहीं वह नई पार्टी बनाने पर विचार कर रहे हैं जिसका नाम संभवतः 'पैट्रियॉट पार्टी' हो सकता है।

कैपिटल हिंसा के बाद अपनी ही पार्टी में विरोध

ट्रंप की रिपब्लिकन्स के बीच अच्छी पहुंच है और पार्टी में भी उनका दबदबा कायम है लेकिन राजनीतिक पंडितों को इसपर शक है कि ट्रंप को लंबे समय तक लोग पसंद करेंगे। क्योंकि आखिरकार वह राष्ट्रपति पद बेहद ही खराब अनुभव के साथ छोड़ रहे हैं। वह ऐसे राष्ट्रपति हैं जिनपर दो बार महाभियोग चलाया गया है। इसके अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने भी 6 जनवरी को यूएस कैपिटल बिल्डिंग में हुई हिंसा के बाद ट्रंप से किनारा करना शुरू कर दिया है।

माइक पेंस ने भी अलग की राह

ट्रंप शहर से बाहर हैं और शपथग्रहण समारोह में भी शामिल नहीं हो रहे लेकिन उनकी ही पार्टी के कई नेताओं ने जो बाइडन प्रशासन के साथ सहयोग से काम करने की इच्छा जताई है। हाउस ऑफ रिप्रेंजेटेटिव्स में टॉप रिपबल्किन मैककॉनेल और केविन मैकार्थी शपथग्रहण से पहले डेमोक्रैट्स नैन्सी पेलोसी और चार्ल्स शूमर के साथ प्रार्थना सभा में शामिल होंगे। वहीं, उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने भी मिलिटरी बेस पर ट्रंप के फेयरवेल समारोह में न जाकर बाइडन के शपथग्रहण में शामिल होने का ऐलान कर के ट्रंप से अलगाव जाहिर कर दिया है।

*

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post